दुनिया झुक जाएगी आपके सम्मान में, बस अपने अंदर ले आए यह 15 गुण

आज के समय में हर कोई चाहता है कि सब उसे अच्छा कहे, उसके बारे में अच्छी बातें करे, उसका सम्मान करें, उसे प्यार करें. लेकिन क्या सिर्फ आपके चाहने से ऐसा हो सकता है? बिलकुल नहीं, इसके लिए आपको अच्छे काम करना पड़ेंगे. अच्छे गुणों को अपनाना पड़ेगा. अपने अंदर की बुराइयों को खत्म करके अच्छाई को बढ़ाना पड़ेगा. अगर आप ऐसा करोगे तभी लोग आपका सम्मान करेंगे और आपकी तारीफ करेंगे. चलिए आज आम आपको एक बेहतर और आदर्श इन्सान बनने के तरीके बताते है.

सभी का सम्मान करें

मानव का स्वभाव होता है कि वह अगर कोई हमसे किसी भी चीज में बड़ा है तो हम उससे काफी अच्छे से बात करते हैं, लेकिन गरीब या अपने से छोटे लोगों से हम उतने सम्मान से बात नहीं करते हैं? अगर आप वाकई आदर्श इन्सान बनना चाहते हो तो कोई छोटा हो या बड़ा, अमीर हो या गरीब, पद में आपसे छोटा हो या बड़ा, ऊँची जाति का हो या नीची जाति का, पड़ोसी हो या रिश्तेदार, किसी भी धर्म या किसी भी जाति का हो, सभी के साथ समानरूप से व्यवहार करना चाहिए.

बड़ो का आदर करें

हमें अपने से बड़े लोगों का आदर करना चाहिए. सिर्फ अपने घर परिवार या रिश्तेदारों का ही नहीं बल्कि किसी भी जगह पर या कहीं पर भी मिलने वाले हर बड़े व्यक्ति का आदर करना चाहिए.

ईमानदार बनें

झूठ बोलने से लोगों का आप पर से विश्वास उठ जाता है और फिर कोई आप पर भरोसा नहीं करता है। इसलिए आप वाकई आदर्श इंसान बनना चाहते हैं तो कभी झूठ न बोले। सच बोलने बोलने वाले व्यक्ति पर लोगों का भरोसा बढ़ता है और सभी उसकी बात मानने लगते हैं, वही उसकी गलतियां भी माफ हो जाती है।

किसी के साथ बुरा व्यवहार ना करें

एक अच्छा इंसान बनने के लिए जरूरी है कि हम कभी किसी के साथ बुरा व्यवहार न करें, किसी को धोखा ना दे, किसी को दुख ना पहुंचाएं, किसी के साथ छल कपट न करें, किसी के बारे में गलत बातें ना फैलाएं, किसी की उसकी पीठ पीछे बुराई ना करें, किसी को किसी के बारे में गलत ना बताएं और किसी को किसी दूसरे के खिलाफ भड़काए नहीं। ऐसा काम करने से हम समाज की नजरों में खराब और बुरे इंसान बनते हैं।

दूसरों की मदद करें

एक अच्छे इंसान का सबसे बड़ा गुण होता है दूसरों की मदद करना। अगर हमारे मदद करने से किसी का भला होता है तो इससे अच्छी बात क्या होगी? किसी की मदद करना, किसी का भला करना, यह अच्छे लोगों की निशानी है, यह देवीय गुण है। अभी किसी वजह से हम किसी की मदद नहीं कर पा रहे हैं तो कम से कम उसे भावनात्मक सहारा जरूर दें, उसे सकारात्मक दिलासा जरूर दें।

घमंड ना करें

एक अच्छा और आदर्श इंसान कभी भी घमंड नहीं करता है। अगर आपके पास दूसरों से कुछ ज्यादा है तो उसका दिखावा नहीं करना चाहिए, बल्कि उसके लिए ईश्वर का धन्यवाद देना चाहिए और अपने आप को पहले से बेहतर बनाना चाहिए। इसके अलावा दूसरों को भी अच्छे कामों के लिए प्रेरित करना चाहिए।

गुस्सा और जलन की भावना ना रखें

जिस इंसान के मन में जलन की भावना होती है वह कभी खुश नहीं रह सकता और ना किसी के साथ अच्छा कर सकता है। गुस्सा हमारे सोचने और समझने की शक्ति को खत्म कर देता है। जो व्यक्ति ज्यादा गुस्सा करता है उसे कोई भी पसंद नहीं करता, लोग उससे दूर होते चले जाते हैं।

रिश्तो को दे महत्व

जीवन में रिश्तो का बहुत महत्व होता है। इसलिए कभी भी रिश्तो को टूटने ना दें। आप किसी भी व्यक्ति से किसी भी तरह के रिश्ते में जुड़े हो तो उस रिश्ते को पूरी ईमानदारी और शिद्दत से निभाए। अगर आपको लगता है कि आप रिश्तो को बेहतर तरीके से नहीं निभा सकते तो आप रिश्ते बनाए ही नहीं। एक अच्छे दिल का इंसान कभी भी रिश्तो को बिखरने नहीं देता है।

गलतियों को स्वीकार करें

एक आदर्श व्यक्ति कभी भी अपनी गलतियों को मानने से डरता नहीं है। एक अच्छा व्यक्ति वही होता है जो दूसरों में कमियां निकालने के बजाय अपनी गलती ढूंढे और उनमें सुधार करें।

गलतियों को माफ करना सीखें

अगर आपके साथ किसी ने कभी कोई गलत व्यवहार किया हो तो उसे ज्यादा समय तक अपने दिमाग में ना रखें बल्कि उसकी गलती माफ कर दे और भूल जाए। गलतियां माफ़ करने से दिल का बोझ हल्का हो जाता है और गलतियों को भूलने से दिमाग का बोझ हल्का हो जाता है। हम मानते हैं कि कुछ गलतियां ऐसी होती हैं जिन्हें माफ नहीं किया जा सकता। ऐसी स्थिति में आपके सामने 2 उपाय होते हैं या तो आप गलतियों को भुलाकर उस इंसान को माफ कर दे या फिर उस इंसान को बुलाकर उसकी गलतियों को माफ कर दे।

धार्मिक प्रवृत्ति का बने

मनुष्य की जैसे-जैसे भगवान के प्रति आस्था बढ़ने लगती हैं वैसे उसे उसके दिमाग से बुरे काम बुरे विचार अपने आप दूर होने लगते हैं। भगवान के प्रति आस्था हमें बुरे रास्तों से दूर ले जाकर हमें अच्छा इंसान बनने के लिए प्रेरित करती हैं।

हमेशा सकारात्मक रहे

जीवन में समय कभी एक सा नहीं रहता रहता है। हमारे जीवन में हमेशा अलग अलग परिस्थितियां आती रहती हैं लेकिन हमें हर परिस्थिति में हमेशा सकारात्मक रहना चाहिए। क्योंकि सकारात्मक व्यक्ति को हर कोई पसंद करता है जबकि नकारात्मक व्यक्ति को कोई पसंद नहीं करता है।

समाज सेवा करे

अगर आप वाकई चाहते हैं कि लोग आपकी इज्जत करें आपको अच्छा समझे तो इसके लिए आपको समाज के कार्यों में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए। समाज में फैल रही बुराइयों को रोकने में अपना योगदान दें। लोगों में जागरूकता लाएं। ऐसा करने से लोगों के मन में आपके प्रति एक अच्छी छवि बनेगी और आप को हर जगह सम्मान मिलेगा।

हमेशा सीखते रहे

अपने जीवन में कुछ नया पढ़ने की और नया सीखने की आदत डालें, क्योंकि अगर आप किसी को अच्छी सलाह दोगे तो उसके लिए जरूरी है कि आपको उसके बारे में पूर्ण जानकारी हों

mohit sharma