मरीज का हुआ ऑपरेशन, पेट से निकला खजाना, जानिए क्या हैं मांजरा

Ajab Gajab :-

 

कहते हैं कि अगर पागलपन हद से ज्यादा हो जाए तो व्यक्ति वस्तुओ का चयन करना तक भूल जाता हैं, उसे इस बात तक का अनुमान नहीं रहता कि किस वस्तु को खाना हैं और किस वस्तु का उपयोग दुसरे काम में करना हैं. अगर आपको हमारी बात पर यकीन नहीं आता तो यह खबर आपके लिए हैं. दरअसल हाल ही में एक व्यक्ति की मानसिक बिमारी से जुडी एक ऐसी घटना सामने आई हैं जहाँ व्यक्ति के पेट से खजाना निकला हैं. अब आप सोच रहे होंगे की खजाना निकलने से और व्यक्ति के मानसिक रूप से बीमार होने का क्या सम्बन्ध, तो आप इस खबर को पूरा पढिये.

 

पेट से निकला खजाना

दरअसल महाराष्ट्र के पालघर जिले का रहने वाले एक व्यक्ति के पेट से ढेर सारे सिक्के निकाले गए, यह सिक्के उस व्यक्ति का ऑपरेशन करने के बाद निकाले गए. खबरों की माने तो यह व्यक्ति मानसिक रूप से बीमार था और अपनी इसी बीमारी के कारण लम्बे समय से सिक्के निगल रहा था. आपको बता दे कि 50 साल के इस आदिवासी व्यक्ति के पेट से करीब 72 सिक्के निकले हैं. डॉक्टर भी इस बीमार व्यक्ति की हरकत से हैरत में पड़ गए हैं. हालाँकि अब इस पीड़ित की हालत ठीक हैं और उसे जल्द ही अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.

 

दुर्लभ रोग से पीड़ित था व्यक्ति

 महाराष्ट्र के पालघर जिले का रहने वाला कृष्ण सोमलया सांबर काफी दुर्लभ बिमारी से पीड़ित है. डॉक्टर के अनुसार सांबर लगभग 20 साल से दुर्लभ रोग मेटलोफगिया से पीड़ित हैं, और इस तरह के रोग से पीड़ित व्यक्ति को धातु से बनी वस्तुओ को निगलने की आदत रहती हैं. डॉक्टर की माने तो इस मनोरोगी का ऑपरेशन करीब 3 घंटे तक चला और उसके पेट से 72 सिक्के निकले. फिलहाल सांबर की हालत सुधर रही है और माना जा रहा हैं कि जल्द ही उसे अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी.

मजेदार खबरों के लिए हमे फॉलो करे..

 

ये भी पढ़े 

रेप के भयानक मंजर को दर्शाती यह फोटो सीरिज, खोल देगी आपकी आंखे

देवानंद के लिए जीवन भर कुआंरी रही सुरैया, प्यार की थी कुछ ऐसी कहानी

जानिए भारत में कैसे आया 1 रूपए का नोट, क्या हैं इसका इतिहास