Ajab Gajab

हर भारतीय को पता होने चाहिए ये अधिकार

देश का कोई भी व्यक्ति किसी भी होटल में जाकर पानी पी सकता है और वॉशरूम का उपयोग कर सकता है, चाहे वह होटल 5 स्टार ही क्यों न हो. जी हां एक आम आदमी को देश के सविंधान द्वारा कई ऐसे अधिकार दिए गए, जिनके बारे में आज भी देश के ज्यादातर लोगों को पता नहीं है. जब तक देश के लोगों को इन अधिकारों के बारे में पता नहीं होगा, वह इसका उपयोग नहीं कर पाएँगे. यदि आपको कोई आपको ऐसा करने से रोकता है तो आप उसके खिलाफ क़ानूनी कार्रवाई कर सकते हो. आज हम ऐसे ही 5 कॉमन राइट्स बताने जा रहे हैं, जो हर इंडियन को पता होना चाहिए.

 

ड्रिंक एंड ड्राइव

मोटर वाहन एक्ट 1998, सेक्शन-185, 202 के तहत यदि ड्राइविंग के दौरान आपके 100ML ब्लड में अल्कोहल का लेवल 30MG से ज्यादा मिलता है तो पुलिस आपको बिना किसी वारंट के गिरफ्तार कर सकती है.

 

FIR लिखना जरुरी है

भारतीय दंड संहिता, 166A के अनुसार कोई भी पुलिस अफसर किसी को भी FIR लिखने से मना नहीं कर सकता है. यदि कोई पुलिस अफसर ऐसा करता है तो उसे 6 माह से 1 साल की सजा हो सकती है.

 

फ्री पानी और वाशरूम

अगर आप कहीं जा रहे हो और आपको अचानक प्यास लगी हो या फिर आपको वाशरूम जाना हो तो आप अपने आस-पास मौजूद किसी भी होटल में जाकर फ्री में पानी पी सकते हो या फिर वाशरूम का उपयोग कर सकते हो, चाहे वह होटल 5 स्टार ही क्यों न हो. भारतीय सरिउस अधिनियम, 1887 यह आपको अधिकार देता है.

 

शादीशुदा व्यक्ति और अविवाहित महिला

भारतीय दंड संहिता व्यभिचार, धारा 499 के अनुसार यदि कोई शादीशुदा व्यक्ति किसी भी अविवाहित लड़की या विधवा महिला से आपसी सहमती से संबंध बनाता है तो अपराध की श्रेणी में नहीं आता है.

 

लिव-इन रिलेशनशिप

ऐसे लड़के-लड़की जो व्यस्क हो चुके है और वह आपसी सहमती से बिना शादी किए अगर साथ में रहना चाहते है तो वह साथ में रह सकते है. ऐसा करना गैरकानूनी नहीं है. घरेलू हिंसा अधिनियम, 2005 आपको यह आधिकार देता है.

 

पढ़िए और भी मजेदार ख़बरें

दिन में तीन बार ही जा सकते हो टॉयलेट, पढ़िए हैरान कर देने वाले स्कूल नियम

कभी भी नहीं होंगे गिले, धुल-मिटटी का भी नहीं होगा असर, कुछ ऐसी तकनीक वाले हैं ये कपडे

आखिर मिल ही गया जवाब, जानिए अंडा शाकाहार है या मांसाहार