लोगो के लिए आज तक सस्पेंस हैं दिव्या भारती की मौत

बॉलीवुड में ऐसे कई कलाकार हुए जिन्होंने अपने अभिनय के दम पर फिल्म इंडस्ट्री में एक ऐसा स्थान बनाया जिसे पाना किसी के लिए भी आसान नहीं हैं. लेकिन इस कलाकारों की जिन्दगी काफी छोटी रही और कम उम्र में ही इन्होने मौत को गले लगा लिया. ऐसी ही एक खुबसूरत और बेहतरीन अदाकारा दी अभिनेत्री दिव्या भारती. दिव्या भारती ने महज 19 साल की उम्र में फ़िल्मी दुनिया में वो बुलंदी हांसिल कर ली थी जिसे हांसिल कर पाना आज टेडी खीर के सामान हैं. जहाँ इतनी कम उम्र में दिव्या भारती ने इतनी सोहरत कमाई वहीं उनकी मौत आज तक उनके फेंस के लिए राज बनी हुई हैं.

 

कम उम्र में बन गई बॉलीवुड की जरुरत

अगर बात 90 के दशक की करे तो दिव्या भारती एक जाना पहचाना नाम थी, हर बॉलीवुड अभिनेता, फिल्म फिल्ममेकर दिव्या के साथ में काम करना चाहता था. दिव्या ने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1990 में फिल्म बोब्बिली राजा से की थी, लेकिन दिव्या ने साल 1992 में बॉलीवुड में फिल्म विश्वात्मा से धमाकेदार एंट्री की. इस फिल्म का गाना सात समंदर पार में तेरे पीछे पीछे आ गई, आज तक लोगो की जुबान पर चढ़ा हुआ हैं. इस फिल्म के बाद दिव्या जैसे बॉलीवुड की जरुरत बन गई और उन्होंने अपने करियर में शोला और शबनम, जान से प्यारा, दवाना जैसी फिल्मो में काम किया.

 

दिव्या की मौत आज भी सस्पेंस

महज 19 साल की उम्र में अपने करियर को शिखर पर पहुचाने वाली अभिनेत्री दिव्या भारती की मौत उनके फैन्स के लिए आज भी सस्पेंस बनी हुई हैं, गौरतलब हैं कि  5 अप्रैल 1993 की रात,मुम्बई के वर्सोवा इलाके में एक पांच मंजिली इमारत से गिरने की वजह से दिव्या की मौत हो गई थी. लेकिन उनकी मौत के पीछे का कारण आज तक एक पहेली हैं, कुछ लोगो का मनना हैं कि ये एक सुसाइड था वहीं कुछ इसे एक मर्डर बताते हैं. कुछ का मानना था की दिव्या डिप्रेशन में थी वहीं कुछ लोगो की धारणा थी की दिव्या की मौत में अंडरवर्ल्ड का हाथ था, लेकिन आज तक दिव्या की मौत के पीछे का असली कारण नहीं पता चला सका हैं.