Ajab Gajab

आखिर मिल ही गया जवाब, जानिए अंडा शाकाहार है या मांसाहार

Offbeat

दोस्तों मै एक शुद्ध शाकाहारी इंसान हूँ, मैं मीट नहीं खाता हूं. हालाँकि मेरे कुछ दोस्त है जो मांसाहार करते है, लेकिन जब वो मांसाहार करते है उस समय मैं उनसे दूर चला जाता हूँ. हालाँकि मेरे कुछ दोस्त ऐसे भी है जो खुद को शाकाहारी कहते है और मीट नहीं खाते है, लेकिन अंडे जरुर खाते है. वो अक्सर कहते है कि अंडे शाकाहार है और मैं कहता हूं नहीं अंडे मांसाहार है. मैं उनसे कहता हूं कि चूंकि ये मुर्गी के अंडे हैं इसलिए ये मांसाहारी है तो वह कहते है कि दूध भी तो गाय देती है तो क्या वह भी मांसाहार है? हालाँकि हमारी यह बहस बिना किसी नतीजे के खत्म हो जाती है क्यों कि किसी को पता नहीं था अंडा शाकाहार है या मांसाहार.

 

सालों से चली आ रही है बहस

दरअसल अंडा शाकाहार है या फिर मांसाहार, यह सवाल सालों से चला आ रहा है, लेकिन इसका सटीक जवाब किसी के पास नहीं था. हमारे जैसे कई लोग होंगे जो इस बात को लेकर भ्रमित है कि अंडा शाकाहार है या फिर मांसाहार. तो दोस्तों मुझे तो इसका जवाब मिल गया है, चलिए अब मैं आपको भी बता देता हूँ कि अंडा शाकाहार है या फिर मांसाहार.

 

शाकाहारी होता है अंडा

अगर आप भी मेरी तरह अंडे को शाकाहार समझते हो तो बता दूँ कि मेरी तरह आप भी गलत थे. दरअसल अंडा शाकाहार होता है. यह मैं नहीं कह रहा, बल्कि हाल ही में वैज्ञानिकों ने इस पर अध्ययन किया था और उसमे सामने आया है कि अंडा मांसाहार होता है. अगर आप भी ये समझ बैठे थे कि अंडे के परिपक्व होने के बाद उससे बच्चा निकल सकता है और इसी वजह से वो मांसाहारी है तो बता दे कि आप गलत है. दरअसल बाजार में मिलने वाले अंडे अनफर्टिलाइज़्ड होते हैं यानि इन अंडों में से चूजे बाहर नहीं आ सकते है.

 

कैसे चला पता

जैसा कि हम जानते है कि अंडा तीन लेयर में बना होता है- पहला होता है छिलका, फिर अंडे की सफेदी और फिर सबसे आंतरिक हिस्सा उसकी जर्दी. वैज्ञानिकों के अनुसार अंडे की सफेदी में सिर्फ प्रोटीन होता है, उसमें मुर्गी का कोई भी हिस्सा मौजूद नहीं होता. इसका मतलब अंडे की सफेदी पूरी तरह से शाकाहारी है. अंडे का छिलका तो हम खाते नहीं है तो अब बची जर्दी. वैज्ञानिकों का कहना है कि अंडे की जर्दी यानि पीले भाग में सबसे ज्यादा प्रोटीन, कोलेस्ट्रॉल और फैट मौजूद होता है, लेकीन अंडा फर्टिलाइज़्ड है तो उसमे गैमीट सेल्स भी मौजूद होंगे जो उसे मांसाहारी बना देंगे.

 

क्या होते है अनफर्टिलाइज़्ड अंडे

दरअसल जब मुर्गी 6 महीने की हो जाती है तो बिना मुर्गे के सम्पर्क में आए ही हर 1 या डेढ़ दिन में अंडे देती ही है. इन अंडो को ही अनफर्टिलाइज़्ड अंडे कहा जाता है. इन अंडों से कभी भी चूजे नहीं निकल सकते इसलिए ये अंडे खाने शाकाहारी होते है, वहीँ जो अंडे मुर्गी, मुर्गे के सम्पर्क में आने पर देती है वह फर्टिलाइज़्ड होते है और उनमे मांसाहार होता है.

 

कैसे पहचाने अनफर्टिलाइज़्ड अंडे

अब आप यह सोच रहे होंगे कि भला हम कैसे पहचाने कि यह अंडा फर्टिलाइज़्ड है या फिर अनफर्टिलाइज़्ड. तो हम आपको बता दे कि फर्टिलाइज़्ड अंडा, अनफर्टिलाइज़्ड अंडे की तुलना में हल्का पीलापन लिए होता है. यानी हो अंडा शाकाहारी होता है वह बिलकुल सफ़ेद होता है, जबकि मांसाहारी अंडा हल्का पीला होता है. तो दोस्तों अब तो समझ में आ गया न कि अंडा शाकाहारी होते है. अगर आप भी मेरी तरह अंडों को मांसाहारी समझकर नहीं खा रहे थे तो तुरंत खाना शुरू कीजिए और आपका कोई ऐसा दोस्त हो जो अंडो को मांसाहार समझता है तो इस स्टोरी को अपने दोस्त के साथ भी शेयर कीजिए.

 

यह भी पढ़िए

यह हलवाई खौलते तेल में हाथ डालकर निकालते है पकौड़े

ब्लेड के बीच में क्यों होती है खाली जगह, बहुत दिलचस्प है कहानी

ऐसा अनोखा गांव जहां दशकों से नहीं किया गया तम्बाकू का सेवन