चाणक्य नीति- मनुष्य को बर्बाद कर देती है यह तीन आदतें

Readers Choice

मौर्य साम्राज्य के संस्थापक चाणक्य को कुशल राजनीतिज्ञ, चतुर कूटनीतिज्ञ, प्रकांड अर्थशास्त्री के रूप में जाना जाता है. वह इतिहास के सबसे विद्वान व्यक्तियों में से एक है. आज सदियाँ गुजर गई, लेकिन उनके द्वारा कहीं गई बातें आज के समय में भी उतनी ही प्रासंगिक है, जीतनी उस समय थी. चाणक्य ने उस समय अर्थशास्त्र का निर्माण किया था. कौटिल्य ने सामान्य जन के कल्याण के लिए ऐसी नीतियों का निर्माण किया जो वर्तमान के समय में बहु उपयोगी होती जा रही है. चाणक्य ने मनुष्य के लिए तीन ऐसी बातें बताई थी, जो किसी की भी जिन्दगी बर्बाद करने के लिए काफी है. तो चलिए जानते है कि चाणक्य के अनुसार कौन सी है वह तीन बातें.

 

पराया धन

जो व्यक्ति धोखे से या फिर अन्य किसी भी गलत तरीके से किसी के धन का हरण करके अपना गुजारा करता है, वह व्यक्ति जीवन में आगे चलकर दुःख भोगता है. छल करके कमाया गया धन, अधिक दिनों तक नहीं टिकता है. अगर चोरी करके कोई अमीर बनता है, वर्तमान में सभी धनवान यही काम करते.

 

पराई स्त्री

ऐसा व्यक्ति जो पराई स्त्री पर गलत नजर रखता है या फिर अवैध रिश्ता बनाता है, वह व्यक्ति जीवन में सुखी नहीं रह सकता. क्यों कि जब तक शरीर में बल होता है तभी तक यह अच्छा लगता है, बाद में नहीं. समझदार व्यक्ति अन्य स्त्री को सम्मान की नजर से देखता है.

 

सच्चे मित्र

जो व्यक्ति बुद्धिमान होता है, वह कभी भी सच्चे मित्र का त्याग नहीं करता है, क्यों कि सच्चे दोस्त आखिरी समय तक बिना किसी स्वार्थ के आपके साथ दोस्ती निभाते है. बुरे व्यक्ति से दोस्ती करोगे तो वह आपको भी बुरा बना देगा. युवा अवस्था में आपको वह अच्छा भी लगेगा, लेकिन बाद में आपको अहसास होगा कि यह सब गलत था. हालाँकि तब तक आपका काफी समय ख़राब हो चूका होगा.

 

पढ़िए और भी मजेदार ख़बरें

महात्मा विदुर के अनुसार इन 5 लोगों को कभी ना बनाए दोस्त

अमीर घरानों से संबंध रखती है इन क्रिकेटर्स की बीवियां, देखना न भूलें !

जानिए क्या होता है जौहर, क्यों महिलाएं खुद को कर लेती थी भस्म