Reader's Choice

भाजपा को हार के भंवर से बाहर निकाल लाए मोदी, बने बाजीगर

Readers Choice

पटेल आरक्षण आन्दोलन, GST से व्यापारियों में गुस्सा, सत्ता विरोधी लहर, हार्दिक-जिग्नेश-अल्पेश की तिकड़ी, नरेन्द्र मोदी का केंद्र की सत्ता में जाना, आन्दोलन के बाद आनंदीबेन पटेल को मुख्यमंत्री पड़ से हटाना, राहुल गाँधी का आक्रमक प्रचार गुजरात में हर वो चीज थी जो भाजपा को गुजरात की सत्ता से बाहर करने के लिए काफी थी, लेकिन कांग्रेस के पास एक चीज नहीं थी और वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जैसा लोकप्रिय नेता. गुजरात चुनाव में मतदान से करीब 3 महीने पहले से ही कांग्रेस ने वहां अपना प्रचार शुरू कर दिया था. कांग्रेस के प्रचार के साथ ही ऐसा लगने लगा था कि इस बार कांग्रेस गुजरात में भाजपा को हर देगी. राहुल गाँधी का जबरदस्त चुनाव प्रचार, व्यापारियों का मिल रहा समर्थन और हार्दिक-जिग्नेश-अल्पेश के साथ आने से कांग्रेस की जीत नजर आने लगी थी, लेकिन अभी गुजरात में एक शख्स की एंट्री होनी बाकी थी.

 

फिर हुई मोदी की एंट्री

गुजरात चुनाव के पहले चरण के मतदान से ठीक 16 दिन पहले चुनावी मैदान में एंट्री हुई देश के प्रधानमंत्री और खुद को गुजरात का बेटा कहने वाले नरेन्द्र मोदी की. चुनावी समर में प्रधानमंत्री मोदी के उतरने के बाद गुजरात में राजनीतिक समीकरण तेजी से बदला. अंतिम दिनों में मोदी ने कई सारी रैलियां की. यह PM मोदी का करिश्मा ही है कि भाजपा गुजरात चुनाव में जीत दर्ज कर पाई.

 

 

कांग्रेस ने किए सेल्फ गोल

गुजरात चुनाव में प्रधानमंत्री मोदी के उतरने के बाद से ही कांग्रेस ने एक के बाद एक सेल्फ गोल करने शुरू कर दिए. घरेलू पिच पर खेल रहे मोदी को कांग्रेसी नेता आसान बॉल डालते रहे और मोदी उन पर छक्का लगाते रहे. हाफिज सईद की रिहाई पर राहुल गाँधी का ट्वीट हो या फिर मणिशंकर अय्यर का नीच बयान, राहुल गाँधी का सॉफ्ट हिंदुत्व का दांव हो या मणिशंकर अय्यर के घर पाकिस्तानी अधिकारीयों की मीटिंग, कांग्रेस ने इस चुनाव में एक के बाद एक कई सेल्फ गोल किए और भाजपा को चुनाव में वापसी का मौका दे दिया.

 

मजबूत होंगे मोदी

22 की सत्ता विरोधी लहर के बाद भी गुजरात में बहुमत से जीत और हिमाचल प्रदेश में प्रचंड बहुमत की जीत ने एक बार फिर साबित कर दिया कि मोदी राजनीति के असली खिलाड़ी है. गुजरात और हिमाचल में जीत से PM मोदी का कद और बड़ा हो जाएगा और आने वाले चुनावों में कांग्रेस के लिए और मुश्किलें खड़ी होगी.

 

पढ़िए और भी मजेदार ख़बरें

कांग्रेस की 5 गलतियां गुजरात चुनाव में पड़ेगी भारी, 3 खुद राहुल से हुई

गुजरात चुनाव में खूब वायरल हुई यह 5 झूठी तस्वीरें

सरेआम ढहा दी मस्जिद और देखती रही पुलिस, जानिए क्या हुआ था उस दिन