Religious

घर में रहेगी सुख-शांति, अपनाएं यह 5 उपाय

सभी चाहते हैं कि उनके घर में सुख-शांति रहे और किसी प्रकार की क्लेश न हो, लेकिन वर्तमान समय में ऐसे कम ही घर होते हैं जहां किसी प्रकार का क्लेश न होता हो. आज के समय ज्यादातर लोग घर में होने वाले लड़ाई-झगड़ों से परेशान है, लेकिन उन्हें इसका कोई उपाय नहीं सूझता है. अगर आप भी रोजमर्रा के झगड़ों से परेशान है तो बता दे कि क्लेश, झगड़े आदि कैसे कम हों, घर में सुख-शांति कैसे बने और रिश्तों में प्रेम कैसे पनप सके इसके लिए कुछ उपाय धार्मिक शास्त्रों में बताए गए है. आज हम आपको कुछ उपाय बताने जा रहे है.

दूषित वातावरण न रखें

घर में सुख-शांति चाहते हो तो घर का वातावरण हमेशा स्वच्छ रखें. घर में पड़ा फालतू सामान बाहर कर दें. शास्त्रों में कहा गया है कि कबाड़ घर में दूषित वातावरण लाता है, जो कि घर की सुख-शांति छीन लेता है. इसलिए घर में केवल जरुरी चीजों को ही रखें. ख़राब हो चुकी चीजों को सही करवा ले और गंदे-फटे बिस्तरों का प्रयोग न करें, हर सप्ताह में एक बार बिस्तरों के लिहाफ आदि बदल दें.

छत की रखें सफाई

घर की छत को सुख वाले ग्रह से जोड़कर देखा जाता है, इसलिए घर की छत हमेशा साफ़ रखें. घर में स्वच्छ वातावरण रखने के लिए सुबह उठकर घर की सफाई करें और बाद में स्नान कर पूजा के बाद घर में भीनी खुशबू वाली अगरबत्तियां जला दें. ध्यान रहे कि इन अगरबत्तियों की सुगंध हल्की होनी चाहिए.

नीले रंग से बनाए दुरी

धर्म शास्त्रों के अनुसार दाम्पत्य जीवन को खुशहाल बनाने के लिए घर में नीले-काले रंग के पेंट आदि नहीं करवाना चाहिए. इसके अलावा नीले-काले रंग के परदे भी घर में न रखें. घर की पूर्वी और उत्तर दिशा में कभी भी कबाड़ या भारी सामान न रखें.

रात में जूठे बर्तन न रखें

शास्त्रों के अनुसार रात के समय में घर में कभी भी जूठे बर्तन न रखें और न ही रात में गंदे कपड़े भिगोकर रखें. रात भर जूठे बर्तन पड़े रहने से परिवार में एकता कभी नहीं बनेगी.

दान करें

सुख और शांति पूर्ण जीवन जीने के लिए दान-पुण्य करते रहें. गरीबों को दान देने के अलावा बेज़ुबान जानवरों को भोजन खिलाना भी अच्छा माना जाता है. रोजाना घर की सबसे पहली रोटी में से कुत्ते, कौवे और गाय को हिस्सा जरूर दें. अगर आप रोजाना यह कार्य न कर सको तो सप्ताह में एक बार तो अवश्य करें.