Religious

सिर्फ धार्मिक नहीं बल्कि वैज्ञानिक दृष्टि से भी फायदेमंद है उपवास

Religious

हिन्दू धर्म में उपवास का बड़ा महत्व है. कोई संतान प्राप्ति के लिए उपवास करता है तो कोई अच्छे पति के लिए. कुछ बेहतर भविष्य के लिए भी उपवास का सहारा लेते हैं. आमतौर पर व्रत रखने को श्रद्धा और भक्ति से ही जोड़कर देखा जाता है, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जो इसलिए व्रत रखते हैं कि उनका वजन कम हो जाएगा लेकिन कम ही लोगों को पता होगा कि व्रत करना सेहत के लिए बहुत फायदेमंद है. वैज्ञानिक रिसर्च में भी यह बात साबित हो चुकी है. आज हम आपको उपवास के फायदों के बारे में बता रहे है, जिन्हें जानकर आपको भी लगेगा कि धार्मिक मौकों पर ही नहीं बल्कि आमतौर पर भी उपवास करना शुरू कर देना चाहिए.

 

 

घटता वजन और बढती प्रतिरोधक क्षमता

उपवास करने से फैट बर्निंग प्रोसेस तेज हो जाती है और चर्बी तेजी से घटने लगती है. दरअसल उपवास करने से शरीर में मौजूद फैट सेल्स लैप्टिपन नाम का हॉर्मोन स्त्रावित होता है. उपवास के दौरान हमारे शरीर को कम कैलोरी मिलती है जिसकी वजह से लैप्टिन की सक्रियता कम होती है और वजन घटता है. बीते दिनों हुई एक रिसर्च में सामने आया है कि उपवास करने से शरीर में नई प्रतिरोधक कोशिकाएं बनती हैं और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

 

स्वस्थ शरीर और स्वस्थ दिमाग
उपवास करने से शरीर और दिमाग स्वस्थ रहता है. उपवास करने से शरीर की अंदरूनी गंदगी साफ होती है और पाचन क्रिया बेहतर होती है. इसके अलावा उपवास का असर हमारे दिमाग पर भी पड़ता है और दिमाग से जुड़ी परेशानियां भी कम होती हैं.

 

 

घटेगा डिप्रेशन और बढेगी उम्र

रिसर्च के अनुसार उपवास करने से डिप्रेशन कम होता है और हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है, यह हमारी उम्र भी बढ़ाता है.

 

मेटाबॉलिक रेट और गलत खाने-पीने का एहसास

उपवास करने एक फायदा यह भी है कि इससे शरीर की मेटाबॉलिक रेट 3 से 14 प्रतिशत तक बढ़ती है. इससे पाचन क्रिया और कैलोरी बर्न होने में कम वक्त लगता है. वही आज कल लोग गलत खाने-पीने के कारण परेशानी का सामना करते है. उपवास करने से हमें अपने गलत खाने-पीने का अंदाज भी हो जाता है.

 

कैंसर के मरीजों के लिए

उपवास करना कैंसर के मरीजों के लिए भी लाभदायक होता है. यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ कैलिफोर्निया के विशेषज्ञों ने बताया कि कैंसर के मरीजों के लिए उपवास रखना बहुत फायदेमंद होता है. ऐसे मरीज जो कीमोथैरिपी ले रहे हैं, उन्हें ये बहुत लाभ पहुंचाता है.

 

पढ़िए और भी मजेदार ख़बरें

कांच की वस्तुएं डालती है बुरा असर, रखें ये सावधानियां

PM मोदी की कुंडली में हैं गजकेसरी योग, आगे भी जारी रहेगा जीत का सिलसिला

मृत्यु शैया पर लेटे हुए भीष्म पितामह ने स्त्रियों को लेकर बताई थी यह गुप्त बातें